newsdesk18.com
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, भाजपा के आम और खास नेताओं से लेकर छोटे कार्यकर्ता तक। हर किसी ने पूर्व पीएम डाॅ. मनमोहन सिंह को खूब कोसा। खूब चुटकुले भी बनाए। उनको मौनी बाबा भी कहा। उनको डरपोक और चुप रहने वाला पीएम से लेकर ना जाने क्या-क्या कहा। पिछले दिनों उन्होंने कहा था कि वो डरपोक पीएम कभी नहीं रहे। उन्होंने आरोप भी लगाया कि पीएम मोदी मीडिया के सवालों से घबराते हैं। या यूं कहें कि पीएम मोदी डरपोक हैं। पूर्व पीएम की बात सच भी साबित हो गई है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी मीडिया तो दूर अपने ही कार्यकर्ताओं के सवालों से डर गए। दरअसल, उनसे तमिलनाडु में एक कार्यकर्ता ने सवाल किया कि हमारी सरकार मिडिल क्लास लोगों के लिए कब कुछ करेगी…? पीएम मोदी ने इस सवाल का जवाब देने के बजाया कार्यकर्ता को ‘‘वणक्कम’’ यानि नमस्कार कह दिया और दूसरे सवाल की ओर चल दिए। इसका वीडियो भी काफी वायरल हो रहा है।

दअरसाल, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी वीडियो चैट के जरिए तमिलनाडु के बीजेपी कार्यकर्ताओं से रूबरू हो रहे थे। इस दौरान निर्मल कुमार नाम के एक कार्यकर्ता ने उनसे कठिन सवाल पूछ लिया। कार्यकर्ता ने पीएम से पूछा कि सरकार मिडिल क्लास से टैक्स तो खूब वसूल रही है, लेकिन उनका ध्यान नहीं रख रही है। इस सवाल का जवाब दिए बिना ही पीएम मोदी ने उस कार्यकर्ता को वणक्कम बोल दिया।

मामला बीते बुधवार का है। निर्मल कुमार जैने ने कहा मेरा सवाल ये है कि आप जो काम देश बदलने के लिए कर रहे हैं बिल्कुल अच्छा कदम है, लेकिन मिडिल क्लास ऑफ सोसाइटी को लगता है कि आपकी सरकार हर तरीके से सिर्फ टैक्स वसूल रही है और बदले में उनके आपसे राहत नहीं मिल रही है। जैसे आई सेक्शन में, लोन प्रोसेसिंग प्रोसीजर में, बैंक फीस और पेनल्टी में कमी महसूस होती है। आपसे निवेदन है कि मिडिल क्लास लेवल, जो आपकी पार्टी की जड़ है, उनका भी ध्यान रखा जाए। जैसे टैक्स वसूलते हुए रखते हैं। धन्यवाद।

बीजेपी कार्यकर्ता के इस सवाल के बाद पीएम मोदी के चेहरे सम साफ झलक रहा था कि उनके पास सवाल का जवाब नहीं था। उन्होंने वणक्कम कहने के बाद थोड़ा संभलते हुए कहा कि आप व्यापारी आदमी हैं तो स्वाभाविक है कि व्यापार की ही बात करेंगे। हम जनता के खयाल रखने के पक्ष के हैं और उनका खयाल रखेंगे आपको विश्वास दिलाते हैं…चलिए पुंडुचेरी को वणक्कम।

और फिर वही हुआ, जो हमेशा से होता है। जब भी कुछ असहज करने वाले बातें होती हैं। सबको भारत माता बचा लेती है। भारत माता जय के नाराों के बीच सवाल और उसका जवाब दोनों दम तोड़ गए। मामला पीएमओ पहुंचा तो तय किया गया कि अब पीएम से होने वाले सवालों की पहले जांच-पड़ताल होगी। सवालों को फिल्टर करेंगे, ताकि कोई भी पीएम के विरोध वाला सवाल न पूछ पाए। सवाल पूछने वाले और उसके सवाल की पहले जांच होगी, उसके बाद ही उसे पीएम के समक्ष रखा जाएगा। टाइम्स ऑफ इंडिया ने पूरे मामले को लेकर एक खबर भी छापी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here