नई दिल्‍ली: ऑस्‍ट्रेलियाई टीम ने जबर्दस्‍त पलटवार करते हुए पांच मैचों की सीरीज में भारतीय टीम को 3-2 से हरा दिया है. ऑस्‍ट्रेलियाई टीम ने सीरीज में 0-2 से पिछड़ने के बाद यह जीत हासिल की है. ओपनर उस्‍मान ख्‍वाजा के शतक (100) के बाद अपने गेंदबाजों के बेहतरीन प्रदर्शन की बदौलत ऑस्‍ट्रेलिया ने सीरीज के अंतिम मैच में भारत को 35 रन से शिकस्‍त दी. क़रीब 10 साल बाद कंगारुओ ने भारत में कोई वन डे सिरीज़ जीती है.

दिल्‍ली के फिरोजशाह कोटला मैदान पर टॉस जीतकर पहले बैटिंग करते हुए ऑस्‍ट्रेलिया ने 50 ओवर में 9 विकेट खोकर 272 रन बनाए. ख्‍वाजा के शतक के अलावा पीटर हैंड्सकोंब (52) ने भी अर्धशतकीय पारी खेली. जवाब में भारतीय टीम लगातार विकेट गंवाती रही. मैच में एक समय भारत के छह विकेट 132 रन पर गिर चुके थे और हार बेहद नजदीक नजर आ रही थी. ऐसे क्षणों में केदार जाधव और भुवनेश्‍वर कुमार की जोड़ी ने सातवें विकेट के लिए 91 रन की साझेदारी करते हुए कुछ देर के लिए ऑस्‍ट्रेलिया की चिंता बढ़ा दी. हालांकि लगातार गेंदों पर इन दोनों के आउट होते ही भारत के संघर्ष ने दम तोड़ दिया. भारतीय टीम 237 रन बनाकर आउट हो गई और 35 रन से मैच हार गई.

भुवनेश्‍वर ने 46 और जाधव ने 44 रन की पारी खेली. रोहित शर्मा ने टीम के लिए सर्वाधिक 56 रन बनाए. भारतीय टीम की अपने देश में अक्‍टूबर 2015 के बाद यह पहली सीरीज हार है. तब उसे दक्षिण अफ्रीका ने 3-2 से हराया था. ऑस्ट्रेलिया की बात करें तो यह उसकी भारत में यह 10 साल बाद पहली वनडे सीरीज जीत है. इससे पहले उसने 2009 में भारतीट टीम को उसके घर में हराया था.

इसी के साथ वह अपने घर में लगातार सातवीं वनडे सीरीज दर्ज करने से चूक गई. वहीं आस्ट्रेलिया चौथी ऐसी टीम बनी है जिसने शुरुआती दो मैच हारने के बाद सीरीज अपने नाम की हो. ऐसा सिर्फ पांचवीं बार हुआ है जब किसी टीम ने शुरुआती दो मैच गंवाने के बाद सीरीज जीती हो. ऑस्‍ट्रेलिया के उस्‍मान ख्‍वाजा को मैच और सीरीज का सर्वश्रेष्‍ठ खिलाड़ी घोषित किया गया. सीरीज में उन्‍होंने दो शतक लगाए.  

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here